ऑनलाइन पोकर játék

Publishing time:2021-10-28 00:21:13

नवीनतम बोइंग सट्टेबाजी मंच रैंकिंग ऑनलाइन पोकर játék betway का हिंदी,fun88 निकासी की समस्या,lovebet 6 राष्ट्र,lovebet जा,lovebet टोटेनहम,365 कैसीनो आईपैड,बैकारेट बियरब्रिक,बैकरेट परिशुद्धताप्ले Play,mrcp भाग 1 के लिए सर्वश्रेष्ठ पाँच प्रश्न,सी पोकर हाथ,कैसीनो एनबी,शतरंज एन पास नियम,क्रिकेट चैनल,क्रिकेटज़ीन,यूरोपीय कप फुटबॉल खेल वीडियो,फ़ुटबॉल चैंपियंस लीग फ़ाइनल,जुआ मुक्त बोनस,खुश किसान जैविक खाद,भारत शर्त संपर्क नंबर,जैकपॉट क्रिकेट,नवीनतम सट्टेबाजी युक्तियाँ,लाइव ऑनलाइन लाठी ऑस्ट्रेलिया,लॉटरी एन.जे. परिणाम,एम.क्रिकबज,ऑनलाइन कैसीनो echtgeld,ऑनलाइन खेल याद,ऑनलाइन स्लॉट प्रोमो कोड,पोकर 52,पोकर जिंगा APK,रूले रूसी,रम्मी मैं ओ,सबा बैकरेट कैश नेटवर्क,स्लॉट एलवी बोनस कोड,खेल के जूते ऑनलाइन,तीन पत्ती मनी,लवबेट समूह,आभासी क्रिकेट ऑनलाइन,विलियम हिल एंटरटेनमेंट प्लेटफॉर्म,s स्टेटस,कसीनो में,खेल लॉटरी canada,जैकपोट india.com,पोकर चंपा,बास्केटबाल पूर्ण सुपरस्टार,रीना शर्मा,स्टेटस महाकाल, .मौसमी घटनाओं से भारत को सालाना 87 अरब डॉलर का औसत नुकसान होने का अनुमान : संयुक्त राष्ट्र

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

मौसमी घटनाओं से भारत को सालाना 87 अरब डॉलर का औसत नुकसान होने का अनुमान : संयुक्त राष्ट्र

(योषिता सिंह)

संयुक्त राष्ट्र, 27 अक्टूबर (भाषा) संयुक्त राष्ट्र मौसम एजेंसी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत को चक्रवाती तूफान, बाढ़ और सूखे जैसी मौसमी घटनाओं से औसतन करीब 87 अरब डॉलर का सालाना नुकसान होने का अनुमान है।

विश्व मौसम विज्ञान संगठन ने मंगलवार को ‘एशिया में जलवायु की स्थिति,2020’ रिपोर्ट जारी की, जिसमें कहा गया है कि मौसमी घटनाओं और जलवायु परिवर्तन ने 2020 में पूरे एशिया में प्रभाव डाला, जिससे हजारों लोगों की मौत हुई, लाखों अन्य विस्थापित हो गये और अरबों डॉलर का नुकसान हुआ, जबकि बुनियादी ढांचा और पारिस्थितिकी पर विनाशकारी प्रभाव पड़ा।

डब्ल्यूएमओ द्वारा समन्वित रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘खाद्य एवं जल असुरक्षा, स्वास्थ्य को जोखिम और पर्यावरणीय क्षरण बढ़ने से सतत विकास को खतरा पैदा हुआ। ’’

इसने कहा है कि चक्रवाती तूफान, बाढ़ और सूखे से अरबों डॉलर का नुकसान होने का खतरा है।

डब्ल्यूएमओ ने कहा कि चीन, भारत और जापान ने इसमें से ज्यादातर नुकसान झेला है। इसके मुताबिक चीन में करीब 238 अरब डॉलर, भारत में 87 अरब डॉलर और जापान में 83 अरब डॉलर का नुकसान हुआ।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2020 में बाढ़ और तूफान ने करीब पांच करोड़ लोगों को प्रभावित किया, जिनमें 5000 से अधिक लोगों की जान भी गई।

रिपोर्ट में कहा गया है कि चक्रवात अम्फान से मई 2020 में बांग्लादेश और भारत में घनी आबादी वाले तटीय इलाके प्रभावित हुए।

भारत में, चक्रवात से पश्चिम बंगाल में 1.36 करोड़ लोग प्रभावित हुए और करीब 14 अरब डॉलर का नुकसान हुआ।

डब्ल्यूएमओ महासचवि प्रो. पेटेरी टलास ने कहा , ‘‘बाढ़, तूफान और सूखे ने क्षेत्र में कई देशों को प्रभावित किया है, कृषि और खाद्य सुरक्षा को प्रभावित किया है। विस्थापन को बढ़ाया है और पारिस्थितिकी को नुकसान पहुंचाया है। ’’

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read
मौसमी घटनाओं से भारत को सालाना 87 अरब डॉलर का औसत नुकसान होने का अनुमान : संयुक्त राष्ट्र

जयपुर, 27 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय विद्युत मंत्रालय और ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (बीईई) द्वारा जारी राज्य ऊर्जा दक्षता सूचकांक 2020 में राजस्थान दूसरे स्थान पर है। सूची में कर्नाटक पहले स्थान पर है। राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक डॉ0 सुबोध अग्रवाल ने एक बयान में बताया कि राज्य ऊर्जा दक्षता सूचकांक 2020 के लिये भारत सरकार द्वारा देश के समस्त राज्यों को चार श्रेणियों मे बांटा गया था। राज्य ने 61 अंक दर्ज किये हैं। राजस्थान ने इस वर्ष ऊर्जा दक्षता के मामले में अधिकतम सुधार करके कर्नाटक के बाद दूसरा स्थान प्राप्त किया है। केंद्रीय विद्युत मंत्रालयनयी दिल्ली, 27 अक्टूबर (भाषा) सरकार ने बैंकिंग क्षेत्र के दिग्गज के वी कामत को नवगठित राष्ट्रीय वित्तीय अवसंरचना एवं विकास बैंक (एनएबीएफआईडी) का चेयरपर्सन नियुक्त किया है। संसद ने इस साल मार्च में राष्ट्रीय वित्तीय अवसंरचना एवं विकास बैंक विधेयक, 2021 को मंजूरी दी थी। यह बैंक भारत में दीर्घावधि बुनियादी ढांचा वित्त पोषण को समर्थन देगा। इसमें बुनियादी ढांचा वित्तपोषण के लिए आवश्यक बांड और डेरिवेटिव्स बाजार का विकास शामिल है। वित्त मंत्रालय के तहत वित्तीय सेवा विभाग (डीएफएस) ने बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘आत्मनिर्भर भारत के निर्माण के लिए नया रुख। केंद्र सरकार ने के वीसमारा कैपिटल अन्य ने मारेंगो एशिया हेल्थकेयर का गठन किया

पिछले सप्ताह फोर्ड इंडिया ने एक जनवरी से अपने विभिन्न मॉडलों की कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की थी.नयी दिल्ली, 27 अक्टूबर (भाषा) बजाज ऑटो लिमिटेड का सितंबर, 2021 को समाप्त चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही का एकीकृत शुद्ध 71 प्रतिशत के उछाल के साथ 2,039.86 करोड़ रुपये रहा है। बजाज ऑटो लिमिटेड ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 1,193.97 करोड़ रुपये का शुद्ध दर्ज किया था। समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की एकीकृत कुल आय 9,080.50 करोड़ रुपये रही, जबकि एक साल पहले इसी अवधि में यह 7,441.66 करोड़ रुपयेमौसमी घटनाओं से भारत को सालाना 87 अरब डॉलर का औसत नुकसान होने का अनुमान : संयुक्त राष्ट्र

जयपुर, 27 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय विद्युत मंत्रालय और ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (बीईई) द्वारा जारी राज्य ऊर्जा दक्षता सूचकांक 2020 में राजस्थान दूसरे स्थान पर है। सूची में कर्नाटक पहले स्थान पर है। राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक डॉ0 सुबोध अग्रवाल ने एक बयान में बताया कि राज्य ऊर्जा दक्षता सूचकांक 2020 के लिये भारत सरकार द्वारा देश के समस्त राज्यों को चार श्रेणियों मे बांटा गया था। राज्य ने 61 अंक दर्ज किये हैं। राजस्थान ने इस वर्ष ऊर्जा दक्षता के मामले में अधिकतम सुधार करके कर्नाटक के बाद दूसरा स्थान प्राप्त किया है। केंद्रीय विद्युत मंत्रालयसरकार ने शुक्रवार को ओला और उबर जैसी कैब एग्रीगेटर कंपनियों के ऊपर मांग बढ़ने पर किराए बढ़ाने की एक सीमा लगा दी है.जनवरी से महिंद्रा की कारें भी होंगी महंगी, जानिए कंपन‍ियां क्‍यों बढ़ा रही हैं दाम

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


ज़्विफ्ट एस्पोर्ट्स
यूरोपीय कप फुटबॉल फिर से खेलना
एक लवबेट वाउचर ऑनलाइन खरीदें
casumo जैकपॉट बर्फ़ीला तूफ़ान
रूले ज़िप कार्डधारक केट कुदाल
आभासी क्रिकेट नॉटिंघम
जैकेट जींस लड़का
ई कैसीनो फिलीपींस
lovebet केन्या संपर्क
रम्मीकल्चर नवीनतम संस्करण
क्रिकेट ड्रेस
लाइव कैसीनो खेल सट्टेबाजी
मैं bet365 के साथ कहां पंजीकरण कर सकता हूं
कैसीनो में स्लॉट मशीन
तीन पत्ती का गेम
लकी 28
बेल्टवे 8 दुर्घटना आज
एक लॉटरी परिणाम
दिल्ली में लॉटरी
ऑनलाइन पोकर रियल मनी यूएसए लीगल
गोवा राज्य
गाना भेजो
10cric समर्थन
ओ चेस नान अगेन
झा फुटबॉल
पोकर online poker
क्रिकेट पुस्तक चरित्र