असली पैसे कैसीनो के खेल

असली पैसे कैसीनो के खेल

time:2021-10-28 00:28:43 म्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ Views:4591

स्लॉट मशीन क्वार्टर असली पैसे कैसीनो के खेल 188bet स्लॉट,fun88 एशिया,lovebet 24/7 चैट,lovebet जी५०,lovebet स्कोर,lovebet-क्रि,बैकारेट 504,बैकरेट लाइव डीलर,एनआरएलई में सर्वश्रेष्ठ पांच आठवां,असली पैसे के खेल के लिए लाठी,कैसीनो उत्पत्ति घटना,शतरंज 0800,क्रिकेट 65,क्रिकेट की राख,एस्पोर्ट्स ओलंपियाडस 2020,फ़ुटबॉल 6 एक पक्ष,फुटबॉल.कॉम आज,हा पोकर,ऑनलाइन बैकारेट गेम कैसे खेलें,क्या ऑनलाइन बैकरेट एक घोटाला है?,जस्टिन लैंगर क्रिकेट बुक,लाइव कैसीनो कोई जमा बोनस नहीं,लॉटरी चरम परिणाम,लूडो ऑनलाइन,ओह लॉटरी पोस्ट,ऑनलाइन खेल नायक युद्ध,ऑनलाइन रूले साइट,pk10 सट्टेबाजी कौशल,पोकर स्लॉट,रूले सर्कल,रम्मी 4 जुगाडोरेस रेगलास,रम्मीकल्चर धन निकासी,स्लॉट 21,खेल एच डी,टी चीज़केक,सबसे अच्छा ऑनलाइन सट्टेबाजी मंच,यूनीडेड लवबेट,कौन सा लाइव बैकारेट गेम सबसे अच्छा है,AG हॉल,ऑनलाइन पैसे बनाएं worksheet,क्रिकेट चे नियम मराठी,गोवा होटल बुकिंग,तीन पत्ती हीरो,बरसात उप,मजेदार ऑनलाइन रियल मनी रूले गेम क्या हैं,स्टेटस औरंगाबाद, .म्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ

यह म्यूचुअल फंड के प्रबंधन पर आने वाले खर्च को प्रति यूनिट में बताता है.
  1. म्‍यूचुअल फंड स्‍कीम में एक्सपेंस रेशियो क्‍या होता है?
    एक्सपेंस रेशियो एक तरह का अनुपात है. यह म्यूचुअल फंड के प्रबंधन पर आने वाले खर्च को प्रति यूनिट में बताता है. किसी म्यूचुअल फंड स्‍कीम का एक्सपेंस रेशियो कैलकुलेट करने के लिए उसके एयूएम (एसेट अंडर मैनेजमेंट) में कुल खर्च से भाग दिया जाता है. दरअसल, फंड हाउस के पास प्रशिक्षित पेशेवरों की एक होती टीम है. यही टीम मार्केट और कंपनियों पर नजर रखती है. किसी शेयर को खरीदने या उससे निकलने के फैसले भी यही लेती है. इसके साथ ही एसेट मैनेजमेंट कंपनी (एमएमसी) ट्रांसफर और रजिस्ट्रार से संबंधित खर्च, कस्टोडियन, लीगल व ऑडिट का खर्च, स्कीम की मार्केटिंग और उसके डिस्ट्रीब्यूशन का खर्च भी उठाती है. ये सभी खर्च म्यूचुअल फंड की यूनिट खरीदने वाले ग्राहक से ही लिए जाते हैं. किसी म्यूचुअल फंड स्कीम की नेट एसेट वैल्यू इस तरह के खर्च को घटाने के बाद निकाली गई वैल्यू है.

  2. डायरेक्‍ट प्‍लान की तुलना में रेगुलर प्‍लान का एक्सपेंस रेशियो ज्‍यादा क्‍यों होता है?
    डायरेक्‍ट प्‍लान की पेशकश फंड हाउस सीधे करते हैं. यानी म्‍यूचुअल फंड कंपनी से इन प्‍लान को सीधे खरीदा जा सकता है. वहीं, रेगुलर प्‍लान इंडिपेंडेंट फाइनेंशियल एडवाइजर, बैंक या एनबीएफसी जैसे इंटरमीडियरी या डिस्ट्रीब्यूटरों के जरिये खरीदे जा सकते हैं. म्‍यूचुअल फंड कंपनी इंटरमीडियरी को कमीशन देती हैं. इसे प्‍लान के एक्‍सपेंस रेशियो के तौर पर वसूला जाता है. यही कारण है कि रेगुलर प्‍लान का एक्सपेंस रेशियो ज्यादा होता है.


  3. म्‍यूचुअल फंड के एक्सपेंस रेशियो के लिए क्‍या सीमा तय है?
    बाजार नियामक सेबी ने एक्सपेंस रेशियो की सीमा तय की हुई है. ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम के एयूएम के आधार पर सेबी ने विभिन्न स्‍लैब बनाए हैं. जिन स्कीम का एयूएम 500 करोड़ रुपये है, वे एक्सपेंस रेशियो के रूप में अधिकतम 2.25 फीसदी चार्ज कर सकती हैं. 500-750 करोड़ रुपये एयूएम वाली स्कीम के लिए एक्सपेंस रेशियो 2 फीसदी है. 750-2,000 करोड़ रुपये वाली स्‍कीमों के लिए एक्सपेंस रेशियो 1.75 फीसदी, 2,000-5,000 करोड़ एयूएम वाली स्कीम के लिए 1.6 फीसदी और 5000-10,000 करोड़ रुपये एयूएम वाले फंड के लिए एक्सपेंस रेशियो 1.5 फीसदी हो सकता है. सेबी के निर्देश के मुताबिक, 10,000-50,000 करोड़ एयूएम वाली स्कीम के लिए एक्सपेंस रेशियो हर 5000 करोड़ रुपये बढ़ने के बाद 0.05 फीसदी कम होता चला जाएगा. अगर किसी म्यूचुअल फंड स्कीम का एयूएम 50,000 करोड़ से अधिक है तो उसके लिए एएमसी एक्सपेंस रेशियो के रूप में 1.05 फीसदी चार्ज ले सकती है.


  4. क्‍या म्‍यूचुअल फंड के एक्‍सपेंस रेशियो का रिटर्न पर असर पड़ता है?
    एक्सपेंस रेशियो बताता है कि आपके निवेश पोर्टफोलियो के प्रबंधन के लिए फंड आपसे कितनी फीस वसूल रहा है. अगर आप 2 फीसदी एक्‍सपेंस रेशियो वाली स्‍कीम में 10,000 रुपये निवेश करते हैं तो इसका मतलब यह है कि इस रकम के प्रबंधन के लिए आपको 200 रुपये की फीस चुकानी होगी. इस तरह अगर फंड का रिटर्न 12 फीसदी और उसका एक्‍सपेंस रेशियो 2 फीसदी है तो आप 10 फीसदी रिटर्न कमाएंगे. इस तरह कम एक्सपेंस रेशियो का मतलब अधिक मुनाफा है. वहीं, एक्सपेंस रेशियो अधिक होने का मतलब मुनाफा घटना है. हालांकि, यह सही है कि ज्‍यादा एक्‍सपेंस रेशियो का फंड के रिटर्न पर असर पड़ता है. लेकिन, यह जरूरी नहीं है कि हमेशा अधिक एक्सपेंस रेशियो का मतलब कम मुनाफा ही हो. निवेशकों को स्‍कीम चुनने में कई अन्‍य बातों का भी ध्यान रखना चाहिए.


पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

एक्‍सपेंस रेशियोडायरेक्‍ट प्‍लानरिटर्नसेबीम्‍यूचुअल फंडरेगुलर प्‍लान

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read

नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) में लोगों की दिलचस्पी बढ़ाने की कई कोशिश की जा रही है.पहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.कोविड से पहले के स्‍तर पर पहुंची कंपनियों में भर्ती : सर्वे

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.निवेशकों के सोने का आकर्षण बढ़ा है. वित्त वर्ष 2020-21 में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ईटीएफ) में निवेशकों ने 6,900 करोड़ रुपये डाले.सितंबर में नियुक्ति गतिविधियों में 24% की बढ़ोतरी : रिपोर्ट

एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है.कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.नियमित आमदनी के लिए इन पांच विकल्प में निवेश कर सकते हैं सीनियर सिटीजन

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
फुटबॉल लॉटरी प्लेटफार्म

हम सीनियर सिटीजन के लिए निवेश के पांच ऐसे विकल्प बता रहे हैं जिससे उनकी मेहनत की कमाई पर अच्छी नियमित आय आती रहे.

ऑनलाइन पोकर उम गेल्ड

पेटीएम के सीएचआरओ रोहित ठाकुर ने ईटी को बताया कि पिछले तीन से चार महीनों में कंपनी ने करीब 700 लोगों की भर्ती की है. इन्‍हें ऑनलाइन रिक्रूट किया गया है.

जैकबॉक्स वर्चुअल गेम्स

सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.

स्पोर्ट्स टीवी

अधिकतर निवेशक इक्विटी फंड्स में निवेश करने के लिए सिस्टेमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान (सिप) को तरजीह देते हैं. हाल के समय में सिप को बहुत अधिक लोकप्रियता मिली है.

बढ़ई द्वारा इस्तेमाल किया जाने वाला पोकर

नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) में लोगों की दिलचस्पी बढ़ाने की कई कोशिश की जा रही है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी