बेटिंग बैकअप नेटवर्क

Publishing time:2021-10-18 02:19:55

फ़ुटबॉल जीतने का प्रचार बेटिंग बैकअप नेटवर्क betway संस्थापक,fun88 पोकर,lovebet 5,lovebet मुख्यालय लंदन,lovebet टेलीग्राम,3 रील स्लॉट मुफ्त में कोई डाउनलोड नहीं पंजीकरण नहीं,बैकारेट और गणना कैसे करें,बैकरेट आउट ऑफ़ थाउज़ेंड फ़ोरम,बेस्ट ऑफ़ फ़ाइव डेंटिस्ट्री pdf,बुकमेकर नेविगेशन,कैसीनो l'auberge,शतरंज और कार्ड जो पैसा कमा सकते हैं,क्रिकेट की किताब हिंदी में पीडीफ़ डाउनलोड,क्रिकेट वर्ष पुस्तक,यूरोपीय सट्टेबाजों के पूर्वानुमानित लाभ,फ़ुटबॉल सट्टेबाजी का जीतना लगभग तय है,जी पोकर शेफील्ड,खुश किसान हॉलैंड,मैं लॉटरी सांबाद,जैकबॉक्स गेम्स यूके,ला लीगा फुटबॉल बेबी,लाइव कैसीनो जोंडर पंजीकरण,लॉटरी खेला कैसा होता है,लूडो जिला,ऑनलाइन नकद टेक्सास होल्डम जुआ,ऑनलाइन गेम असली पैसा,ऑनलाइन स्लॉट लातविया,पोकर 007 हीडलबर्ग,पोकर जीतने वाले हाथ,रूले तमिल में,रम्मी डेली,रश फिशिंग गाइड सर्विस,असली पैसे जीतने के लिए स्लॉट खेल,खेल ऑनलाइन शॉपिंग,तीन पत्ती खेल,नवीनतम बोइंग प्लेटफॉर्म,वर्चुअल क्रिकेट चैंपियनशिप शेड्यूल,वाइल्डज़ ड्यूशलैंड,ipl वेळापत्रक,करीना ने,क्रिकेट लाइव लाइन ऑनलाइन,छाबड़ा स्पोर्ट्स पटना,पांच स्कोर टाइम्स लॉटरी,बरसात में सब्जी की खेती,रमी रंधावा सॉन्ग,स्टेटस धोखा, .पहली छमाही में सोने का आयात कई गुना बढ़कर 24 अरब डॉलर पर

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

पहली छमाही में सोने का आयात कई गुना बढ़कर 24 अरब डॉलर पर

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) देश का सोने का आयात चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही अप्रैल-सितंबर, 2021 के दौरान कई गुना बढ़कर 24 अरब डॉलर पर पहुंच गया। वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों से यह जानकारी मिली है।

देश में सोने की मांग बढ़ने से आयात बढ़ा है। सोने के आयात से चालू खाते के घाटे (कैड) पर असर पड़ता है।

पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में सोने का आयात 6.8 अरब डॉलर रहा था।

इस साल सितंबर में सोने का आयात भी कई गुना बढ़कर 5.11 अरब डॉलर हो गया। सितंबर, 2021 में यह 60.14 करोड़ डॉलर रहा था।

वहीं दूसरी ओर अप्रैल-सितंबर में चांदी का आयात 15.5 प्रतिशत घटकर 61.93 करोड़ डॉलर रह गया। हालांकि, सितंबर में चांदी का आयात बढ़कर 55.23 करोड़ डॉलर पर पहुंच गया, जो सितंबर, 2020 में 92.3 लाख डॉलर रहा था।

सोने के आयात में उल्लेखनीय बढ़ोतरी से सितंबर में देश का व्यापार घाटा रिकॉर्ड स्तर पर बढ़कर 22.6 अरब डॉलर हो गया। एक साल पहले समान महीने में यह 2.96 अरब डॉलर रहा था। आयात और निर्यात का अंतर व्यापार घाटा होता है।

भारत दुनिया का सबसे बड़ा सोने का आयातक है। सालाना आधार पर भारत 800 से 900 टन सोने का आयात करता है।

चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात बढ़कर 19.3 अरब डॉलर पर पहुंच गया, जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 8.7 अरब डॉलर रहा था।

रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्द्धन परिषद (जीजेईपीसी) के चेयरमैन कोलिन शाह ने कहा कि त्योहारी सीजन तथा भारी मांग की वजह से सोने का आयात बढ़ा है।

निर्यातकों के संगठन फियो के महानिदेशक अजय सहाय ने भी इसी तरह की राय जताते हुए कहा कि मुख्य रूप से मांग बढ़ने की वजह से सोने के आयात में वृद्धि हुई है।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Air India sale: With the government exiting Maharaja’s cockpit, can Tatas pilot the airline to glory?
Aviation

Air India sale: With the government exiting Maharaja’s cockpit, can Tatas pilot the airline to glory?

14 mins read
How troubled Srei lenders gave INR9,300 crore sweet loans to companies linked to Kanorias
Under the lens

How troubled Srei lenders gave INR9,300 crore sweet loans to companies linked to Kanorias

8 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
पहली छमाही में सोने का आयात कई गुना बढ़कर 24 अरब डॉलर पर

हर्ष गोयनका (Harsh Goenka) ने ट्विटर पर जो एप्पल मग मीम शेयर किया है, वह काफी वक्त से चल रहा है।नयी दिल्ली 17 अक्टूबर (भाषा) घरेलू इलेक्ट्रॉनिक विर्निमाण कंपनी डिक्सन टेक्नोलॉजी ने 5जी मिलीमीटर वेव्स स्मार्टफोन का उत्पादन शुरू कर दिया है, जो इस श्रेणी में भारत से निर्यात किए जाने वाले उपकरणों का पहला सेट होगा। कंपनी एक शीर्ष अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। डिक्सन ने 70 लाख 5जी मिलीमीटर (मिमी) फोन की वार्षिक उत्पादन क्षमता के साथ एक विनिर्माण इकाई स्थापित की है और वह नोएडा में तीन करोड़ स्मार्टफोन की वार्षिक उत्पादन क्षमता के साथ एक और कारखाना स्थापित कर रही है। डिक्सन टेक्नोलॉजीज के कार्यकारी अध्यक्ष सुनील वाचानी ने पीटीआई-भाषा को बताया, "ओर्बिक मायरा 5जीगोल्ड ईटीएफ में सितंबर में 446 करोड़ रुपये का निवेश आया

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) राष्ट्रीय परिसंपत्ति पुनर्गठन कंपनी (एनएआरसीएल) या बैड बैंक जल्द ही शेयरधारकों के उचित प्रतिनिधित्व और बेहतर कॉरपोरेट प्रशासन के लिए बोर्ड में और निदेशकों को शामिल करेगा। सूत्रों ने बताया कि निजी क्षेत्र के बैंकों की तरफ से शेयरधारकों का 49 प्रतिशत प्रतिनिधित्व होगा। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने इस महीने की शुरुआत में 6,000 करोड़ रुपये की एनएआरसीएल को लाइसेंस दिया था, जिसमें सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है। सूत्रों ने कहा कि निजी क्षेत्र के बैंकों की ओर से शेयरधारकों का 49 प्रतिशत प्रतिनिधित्व होगा। रिजर्व बैंक ने एनएआरसीएलनयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) देश का सोने का आयात चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही अप्रैल-सितंबर, 2021 के दौरान कई गुना बढ़कर 24 अरब डॉलर पर पहुंच गया। वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। देश में सोने की मांग बढ़ने से आयात बढ़ा है। सोने के आयात से चालू खाते के घाटे (कैड) पर असर पड़ता है। पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में सोने का आयात 6.8 अरब डॉलर रहा था। इस साल सितंबर में सोने का आयात भी कई गुना बढ़कर 5.11 अरब डॉलर हो गया। सितंबर, 2021 में यह 60.14 करोड़जयशंकर ने भारत में अवसरों पर ध्यान देने के लिए इजराइली कारोबारियों को प्रोत्साहित किया

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) देश में बिजली की खपत अक्टूबर के पहले पखवाड़े में 3.35 प्रतिशत बढ़कर 57.22 अरब यूनिट (बीयू) पर पहुंच गई। बिजली मंत्रालय के आंकड़ों में यह जानकारी मिली है। इन आंकड़ों से पता चलता है कि कोयले की कमी के बीच देश में बिजली की मांग में सुधार हो रहा है। आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल एक से 15 अक्टूबर के दौरान बिजली की खपत 55.36 अरब यूनिट रही थी। देश के बिजली संयंत्रों में कोयला संकट के बीच 15 अक्टूबर को व्यस्त समय में बिजली की कमी घटकर 986 मेगावॉट रह गई। सात अक्टूबर कोनयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) देश में बिजली की खपत अक्टूबर के पहले पखवाड़े में 3.35 प्रतिशत बढ़कर 57.22 अरब यूनिट (बीयू) पर पहुंच गई। बिजली मंत्रालय के आंकड़ों में यह जानकारी मिली है। इन आंकड़ों से पता चलता है कि कोयले की कमी के बीच देश में बिजली की मांग में सुधार हो रहा है। आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल एक से 15 अक्टूबर के दौरान बिजली की खपत 55.36 अरब यूनिट रही थी। देश के बिजली संयंत्रों में कोयला संकट के बीच 15 अक्टूबर को व्यस्त समय में बिजली की कमी घटकर 986 मेगावॉट रह गई। सात अक्टूबर कोविंटर वैकेशन में अमेरिका, ब्रिटेन में पढ़ रहे छात्रों की घर वापसी हुई महंगी, चुकाना पड़ सकता है तिगुना हवाई किराया

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


बेटा भजन
ऑनलाइन जुआ धोखाधड़ी
0-फुटबॉल ऐप
ए बकरा
गोवा डे का रिजल्ट
जे चेसन प्रमुख
फुटबॉल कैश गेम कहां है?
वाइल्डज़ फायर जोकर
ई कैसानोवा
स्पोर्ट्स टी शर्ट्स डिज़ाइन
यूरोपीय कप शेड्यूल वीडियो
क्रिकेट ची माहिती मराठी
बैकरेट वीडियो चुआंग और जियान देखें
lovebet डी हिल मृत्युलेख
कैसीनो ऐप डाउनलोड एंड्रॉइड
बैकारेट मुफ्त में खेलने के लिए
मछली पकड़ने की भीड़ APK
तीन पत्ती डाउनलोड
क्रिकेट in english
बैकारेट ऐप असली पैसा
लाइव कैसीनो होटल छूट कोड
एनबीए यू.एस. सट्टेबाजी अनुपात
फ़ुटबॉल या कैमरून
हा गोवा
मैं पोकर चिप्स
lovebet डेस्कटॉप
लूडो वॉयस चैट